हाडकंपाती ठंड से ठिठुरता समूचा पहाड़, अलाव की व्यवस्था

हाडकंपाती ठंड से ठिठुरता समूचा पहाड़, अलाव की व्यवस्था नहीं 

-भूपेन्द्र भण्डारी/केदारखण्ड एक्सप्रेस 
रूद्रप्रयाग। नये साल के आगमन पर मौसम विभाग की बारिश और बर्फबारी की चेतावनी रूद्रप्रयाग जिले में सच साबित हो रही है। रूद्रप्रयाग के ऊंचाई वाले इलाकों में भारी बर्फबारी और निचले इलाकों में बारिश से समूचा जिला ठिठुर रहा है। हाड़कपाती ठंड ने जहां आम जनजीवन प्रभावित हो रखा है वहीं यहां के पर्यटक स्थलों में नव वर्ष का जश्न मनाने पहुंचे शैलानियों की मुश्किलें भी बढ़ गई है।
स्थानीय लोगों का कहना है  िक इस वर्ष दिसम्बर माह में ही सर्दी ने अपना सिमत ढाह दिया था और दिसम्बर के अंतिम पखवाड़े में ही भारी बर्फबारी हो गई थी जबकि बीते वर्ष फरवरी में बर्फबारी हुई थी, ऐसे में साफ अंदाजा लगाया जा सकता है आने वाले दो माह सर्द मौसम की दुश्वारियां जारी रहेंगी। उधर रूद्रप्रयाग के कई बाजारों में अलाव की भी व्यवस्था नहीं की गई जिससे लोग खासे परेशान हैं। 
उधर पर्यावरण विदो की माने तो लगातार प्रकृति से छेड़छाड़ के कारण ही जलवायु परिवर्तन हो रहा है। गर्मियों में अत्यधिक गर्मी और सर्दियों में अत्यधिक सर्दी का यही बडा कारण है।

हाडकंपाती ठंड से ठिठुरता समूचा पहाड़, अलाव की व्यवस्था हाडकंपाती ठंड से ठिठुरता समूचा पहाड़, अलाव की व्यवस्था Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on January 02, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.