नगर पालिका अध्यक्ष गीता झिक्वांंन ने लगाया जिला प्रशासन पर असहयोग का आरोप

नगर पालिका अध्यक्ष गीता झिक्वांंन ने लगाया जिला प्रशासन पर असहयोग का आरोप 

 भूपेंद्र भंडारी केदारखंड एक्सप्रेस
रूद्रप्रयाग।  नगरपालिका के सफाई कर्मी एवं दैनिक कर्मचारी पिछले 2 दिनों से हड़ताल पर हैं जिससे नगर क्षेत्र में पूरी तरह से सफाई व्यवस्था पटरी से उतरती हुई नजर आ रही है, लेकिन इस सब के बीच नगर पालिका अध्यक्ष गीता झिंकवान्ं ने जिला प्रशासन पर बड़ा और गंभीर आरोप लगाया है।

आपको बताते चले कि  2 दिनों से रूद्रप्रयाग नगर पालिका में पर्यावरण मित्र और दैनिक कर्मचारी अपनी 9 सूत्रीय मांगों को लेकर कार्य बहिष्कार पर हैं जिस कारण नगर क्षेत्र में सफाई व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है , वाल्डो  में जगह-जगह कूड़े के ढेर पड़े हैं जिस कारण पूरा शहर बदरंग नजर आने लगा है, नगर क्षेत्र को गंदगी मुक्त रखने के लिए नगर पालिका द्वारा व्यवस्था के तौर पर मजदूरी पर नेपाली मूल के लोगों को रखा गया लेकिन हड़ताल पर गए सफाई कर्मियों ने इन्हें भी कूड़ा उठाने से रोक दिया। आज सुबह बस अड्डे पर जैसे ही पालिका का कूड़ा वाहन कूड़ा उठाने के लिए गया तो पालिका के कर्मचारियों द्वारा उसे रोक दिया गया पालिका अध्यक्ष द्वारा प्रशासन से पुलिस की मांग की गई लेकिन कोई भी सहयोग नहीं मिल पाया। 2 घंटे की जद्दोजहद के बीच पालिका को कूड़ा  वाहन वही छोड़ना पड़ा। नगर पालिका अध्यक्ष गीता जिनको ने बताया कि 2 घंटे तक प्रशासन से पुलिस की मांग करते रहे लेकिन प्रशासन द्वारा कोई भी सहयोग उन्हें नहीं दिया गया ऐसे में नगर क्षेत्र को गंदगी से मुक्त रखना भी एक बड़ी चुनौती  है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन के इस  रवैया से शहर की सफाई व्यवस्था आने वाले दिनों में और भी बिगड़ जाएगी हालांकि पालिका पूरी कोशिश कर रही है कि किसी भी तरह से यह समस्या का हल निकाला जाए।
नगरपालिका के माध्यम से डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन से लेकर जिला प्रशासन द्वारा स्वच्छता को लेकर कहीं योजनाएं संचालित की जा रही है ऐसे में प्रशासन द्वारा पालिका को सहयोग न देना अधिकारियों की मंशा पर  सवाल जरूर खड़े करते हैं। 

काम पर न लौटने पर कर्मचारी आचरण नियमावली  के तहत होगी कार्रवाईः ईओ

बोर्ड बैठक में प्रतिदिन अस्सी रुपए और देने और ईपीएफ भुगतान पर बनी सहमति

रुद्रप्रयाग। समान कार्य के लिए समान वेतन, वेतन वृद्धि समेत विभिन्न मांगों को लेकर नगर पालिका रुद्रप्रयाग के कर्मचारी पालिका परिसर में दूसरे दिन भी हड़ताल पर रहे। कर्मचारियों की हड़ताल से नगर की सफाई व्यवस्था चरमराने लगी है।
लंबे समय से नगर पालिका के कर्मचारी अपनी नौ सूत्री मांगों को लेकर संघर्षरत हैं। पूर्व में भी कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर चुके हैं। कर्मचारियों की मांग है कि उन्हें समान कार्य के लिए समान वेतन दिया जाय। सौ रुपए प्रतिदिन के हिसाब से उनका मानदेय बढ़ाया जाय। यात्रा का मुख्य पड़ाव होने के कारण यहां बीस पर्यावरण मित्रों की अलग से तैनाती की जाय। 
धरना देते हुए मनीष, रिंकू कुमार, गौरव कुमार, आनंद सिंह, सुषील कुमार, विपिन, नरेन्द्र कुमार, विषन लाल ने कहा कि 2011 से कर्मचारियों के ईपीएफ का भुगतान नहीं किया गया है। सदी अत्यधिक होने के कारण कर्मचारियों को गर्म जैकेट, दस्ताने, जूते दिये जाय और मोहल्ला स्वच्छता समिति के कर्मचारियों को एक से दस तारीख के बीच मानदेय दिया जाय। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को समान कार्य के लिए समान वेतन मिलना चाहिए। इस संबंध में न्यायालय ने भी आदेष दिए हैं। कई निकायों में कर्मचारियों को समान कार्य के लिए समान वेतन मिल रहा है। लेकिन रुद्रप्रयाग नगर पालिका कर्मचारियों की अनदेखी कर रही है। 
वहीं नगर पालिका अध्यक्ष गीता झिंक्वाण का कहना है कि कर्मचारियों का मानदेय प्रतिदिन 80 रुपए और बढ़ा दिया गया है। मार्च माह के बाद बीस रुपए प्रतिदिन और बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को सहयोग करना चाहिए। 
नगर पालिका अधिषासी अधिकारी सीमा रावत ने कहा कि बोर्ड बैठक में समस्त कर्मचारियों का पालिका बजट के अनुसार प्रतिदिन 80 रुपए बढ़ाए जाने पर सहमति बनी है। साथ ही बोर्ड ने ईपीएफ की बकाया राषि लगभग 68 लाख रुपए को राज्य वित्त से भुगतान करने की सहमति बनाई है। इसके अलावा कर्मचारियों को मार्च 2020 तक अतिरिक्त वर्दी उपलब्ध कराने पर सहमति जताई गई है। उन्होंने कहा कि हड़ताल कर रहे कर्मचारी तीन दिन के भीतर काम पर नहीं लौटे तो कर्मचारियेां के विरूद्ध कर्मचारी आचरण नियमावली की सुसंगत धाराओं के अन्तर्गत कार्रवाई की जाएगी। शहर की सफाई और विद्युत व्यवस्था को देखते हुए कर्मचारियों के स्थान पर अन्य कर्मचारियों की व्यवस्था की जाएगी। 

                              
                                   
नगर पालिका अध्यक्ष गीता झिक्वांंन ने लगाया जिला प्रशासन पर असहयोग का आरोप नगर पालिका अध्यक्ष गीता झिक्वांंन ने लगाया जिला प्रशासन पर असहयोग का आरोप Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on January 31, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.