चमोली जिले के कई गांव डूबे हैं अंधेरे में, कहीं बिजली की आँख मिचौली जारी

चमोली जिले के कई गांव डूबे हैं अंधेरे में, कहीं बिजली की आँख मिचौली जारी

-नीरज कण्डारी /केदारखण्ड एक्सप्रेस
चमोली। सीमांत चमोली जनपद में पिछले दिनों हुई जमकर बर्फबारी से कई गांवों में बिजली गुल हो रखी है तो कई गाँव बिजली की आँख मिचौली से परेशान हैं। हर वर्ष शीतकाल में बर्फबारी से सैकड़ों गाँवों की दिनचर्या प्रभावित होती है लेकिन जिम्मेदार विभाग सब कुछ जानते हुए भी कोई तैयारियां नहीं करते है।
12 और 13 दिसंबर को हुई भारी बारिश और बर्फबारी से चमोली जनपद के की गाँव में विद्युत व्यवस्था ध्वस्त हो गई थी लेकिन विजली विभाग की सुस्ती 5 दिन बाद भी नहीं टूट पाई है। ऐसे में लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

सैकड़ों गाँवों में बत्ती है गुल

चमोली जनपद के दशोली के 4, घाट ब्लाक के 4, पोखरी ब्लॉक के 2 और सबसे अधिक जोशीमठ के 104 गाँवों में विद्युत आपूर्ति बाधित है। हालांकि विभाग दावा कर रहा है कि उनके कर्मचारी विद्युत बहाली के लिए प्रयासरत हैं लेकिन हालात देखकर विद्युत विभाग की सुस्त चाल साफ तौर पर उजागर हो रही है। उधर 40 से अधिक गांव विजली विभाग की आँख मिचौली से परेशान हैं ऐसे में जहां स्कूली बच्चों को पढाई करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है वहीं आम लोगों को भी बिजली के संकट से जूझना पढ रहा है। ऐसे में सवाल यह उठता है कि जब यह समस्या हर साल आती है तो विभाग और प्रशासन इसके लिए पहले तैयार क्यों नहीं रहते हैं। जाहिर सी बात है कि जिम्मेदारों तो आम जनता की कोई परवाह ही नहीं है, बस आम जनता के टैस्स से ऐश जरूर कर रहे हैं।
चमोली जिले के कई गांव डूबे हैं अंधेरे में, कहीं बिजली की आँख मिचौली जारी चमोली जिले के कई गांव डूबे हैं अंधेरे में, कहीं बिजली की आँख मिचौली जारी Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on December 18, 2019 Rating: 5
Powered by Blogger.