Breaking News

Sunday, 10 November 2019

किसानों को फसलें बेचना अब हो गया आसान, विपणन केन्द्र की व्यवस्था शुरू

किसानों को फसलें बेचना अब हो गया  आसान, विपणन केन्द्र की व्यवस्था शुरू 

-भूपेन्द्र भण्डारी/केदारखण्ड एक्सप्रेस 

रूद्रप्रयाग। स्थानीय उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से  विकास भवन रूद्रप्रयाग में आउटलेट शुरू हो गया है। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने आउटलेट का उद्घाटन किया। आउटलेट के माध्यम से उपभोक्ता ग्राहकों को  एक ओर जहाँ शुद्व जैविक उत्पाद उपलब्ध हो रहे हैं, वही स्थानीय काश्तकारों द्वारा अपने उत्पादों को बेचने के लिए बाजार भी मिल रहा जिससे ग्रामीणों की आर्थिकी सशक्त होने की प्रबल सम्भावनाएं हैं। 
विकास भवन में आउटलेट का उद्घाटन करते हुए अधिकारियों ने कहा कि स्थानीय शुद्व जैविक उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराने तथा काश्तकारों की आर्थिकी को सुदृढ करने के लिए आउटलेट की व्यवस्था की गई है। इससे पहाड़ के उत्पादों को विपणन की बेहतर व्यवस्था मिलेगा व लोगों के स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा। हमारे पहाड़ी उत्पाद मंडुआ, झंगोरा, रयांस,मंडुआ के कुरकुरे, बिस्किट व  आदि उत्पाद तैयार किये गए है जो कि शरीर के लिये उत्तम के साथ-साथ औषधीय गुणों से भरपूर है।
दरअसल काश्तकार, स्वयं सहायता समूह तमाम मुश्किलों के बाद अपना उत्पाद ग्रामीण क्षेत्रों से बाजार तक तो पहुंचाते हैं, लेकिन उन्हें उत्पादों का सही दाम नहीं मिल पाता है। काश्तकारों को उचित लाभा पहुॅचाने तथा ग्राहकों तक उतपादो को पहुचने हेतु आउटलेट की व्यवस्था की गई है। इस पहल से स्थानीय काश्तकार खासे उत्साहित है और उन्होंने इस पहल की जमकर सराहना भी की है, जिला प्रशासन के प्रयासों से जहाॅ काश्तकारों में एक नया जोश और उम्मीद की किरन जगी है, वही आने वाले समय में निश्चित रूप से इस आउटलेट से काश्तकारों को बहुत फायदा मिलेगा। 
आउटलेट के उद्घाटन के अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी सरदार सिंह चौहान, जिला उद्यान अधिकारी योगेंद्र सिंह, मुख्य कृषि अधिकारी सुघर सिंह,आजीविका परियोजना प्रबन्धक डॉक्टर मोहम्मद आरिफ सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी व स्वयं सहायता समूह की महिलायें मौजूद थी।
Adbox