यमकेश्वर के ग्रामीण मोटर मार्ग न बनने के कारण पंचायत चुनाव का करेंगे बहिष्कार..

आखिर क्यों किया इस गाँव के ग्रामीणों ने पंचायत चुनावों का बहिष्कार

भगवान सिंह/केदारखण्ड एक्सप्रेस

पौड़ी। यमकेश्वर ब्लाक के ग्राम सभा जयहरी के खण्ड ग्राम जयहरी तल्ली में मोटर मार्ग के नहीं होने से ग्रामीणो ने पंचायत चुनाव का बहिष्कार करने का फैसला किया है,जयहरी तल्ली में वर्तमान समय में तीस परिवार अनुसूचित जाति के निवास करते है,गांव में मोटर मार्ग के नहीं होने से ग्रामीणो को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वर्ष 2010 में गढवाल सांसद सतपाल महाराज को ग्रामीणो ने भृगुखाल से बघेलगांव,जयहरी मल्ली होते हुए तुन्ना, निषणी,ऐरोली होते हुए तिमल्याणी मोटर मार्ग से जोडने के लिए प्रस्ताव दिया था,ग्रामीणो के प्रस्ताव को गढ़वाल सांसद ने लोक निर्माण विभाग पौड़ी को भेज दिया था, इसके बाद लोक निर्माण विभाग ने मोटर मार्ग के निर्माण के लिए तीन बार सर्वे भी किया था। तीन बार मोटर मार्ग का सर्वे होने के बाद 5 किमी0 मोटर मार्ग के प्रथम चरण के लिए 63 लाख रूपये की धनराशि स्वीकृत किया गया।वर्ष 2015 में काण्डी में उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री हरीश रावत को ग्राम निसणी के ग्रामीणों के द्वारा भी मोटर मार्ग का प्रस्ताव दिया गया था। मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद मोटर मार्ग को भृगुखाल से जयहरी मल्ली होते हुए निसणी तक जोड दिया गया,लेकिन जयहरी तल्ली को मोटर मार्ग से नही जोड़ा गया,जबकि जयहरी तल्ली में अनुसूचित जाति के 30 परिवार रहते है। मोटर मार्ग नहीं होने से जयहरी तल्ली के ग्रामीणो को भृगुखाल मोटर मार्ग से 2 किमी0 पैदल चलना पड़ता है इससे बीमार लोगो के साथ साथ प्रसव के समय महिलाओं को लाने ले जाने में बेहद परेशानियों का सामना करना पड़ता है,शादी विवाह के समय भी घोड़े खच्चरो में सामान लाना ले जाना पड़ता है। मोटर मार्ग से दूर होने के कारण समय पर ग्रामीणो को इलाज नही मिल पाता है इससे कई ग्रामीणो को अपनी जान गवानी पड़ती है। पूर्व ग्राम प्रधान जयहरी रतन चन्द्र टम्टा,सुनीता देवी,पदमा देवी,कुलदीप कुमार,नीतू,अनिल कुमार,गम्भीर सिंह,प्रकाश सिंह,रघुवीर सिंह आदि ग्रामीणो का कहना है कि गांव में मोटर मार्ग बनाने के लिए हमने जनप्रतिनिधियों से कई बार गुहार लगाई, लेकिन कोई भी हमारे गांव में मोटर मार्ग नही पहुंचा पाया,इससे हमको कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। गांव के सभी ग्रामीणो ने फैसला किया है कि पंचायत चुनाव 2019 का सभी बहिस्कार करेगें, जब तक गांव में मोटर मार्ग नही पहुंच जाता,किसी भी दल के प्रत्याशी को गांव में नहीं आने देगें।जानकारी प्राप्त हुयी है कि लोक निर्माण विभाग खण्ड दुगड्डा की ओर से जयहरी तल्ली के लिए मोटर मार्ग का निर्माण करने के लिए हर वर्ष राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजे जाते हैं,लेकिन राज्य सरकार से मोटर मार्ग के निर्माण के लिए किसी भी प्रकार की स्वीकृति नही मिलती है,इससे मोटर मार्ग का निर्माण नहीं हो पा रहा है।उधर यमकेश्वर की विधायक ऋतु खण्डूरी से इस सम्बंध में "जागो उत्तराखण्ड"से बातचीत में उन्होंने ग्रामीणों के चुनाव बहिष्कार के निर्णय को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुये कहा कि एक ओर सड़कों के निर्माण के लिये सीमित धन उपलब्धता के कारण सभी सड़कों का एक झटके में निर्माण सम्भव नहीं है,वंही उन्होंने इस मोटर मार्ग के अब तक न बनने का कारण ग्रामीणों का सड़क के समरेखण को लेकर एक राय न बन पाना बताया,कारण जो भी हो सड़क जैसी मूलभूत सुविधा के लिये लोकतन्त्र के पर्व का बहिष्कार होना जनप्रतिनिधियों के नाकारापन का एक और जीता जागता उदाहरण है।
यमकेश्वर के ग्रामीण मोटर मार्ग न बनने के कारण पंचायत चुनाव का करेंगे बहिष्कार.. यमकेश्वर के ग्रामीण मोटर मार्ग न बनने के कारण पंचायत चुनाव का करेंगे बहिष्कार.. Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on October 09, 2019 Rating: 5
Powered by Blogger.