.. तो साजिश के तहत रखे थे ओंकारेश्वर मंदिर में ताम्रपत्र : पुलिस ने की जांच तेज

.. तो साजिश के तहत रखे थे ओंकारेश्वर मंदिर में ताम्रपत्र : पुलिस ने की जांच तेज

-लक्ष्मण सिंह नेगी /केदारखण्ड एक्सप्रेस 
ऊखीमठ । भगवान केदारनाथ के शीतकालीन गद्दी स्थल ओंकारेश्वर मन्दिर के विभिन्न स्थानों पर एक माह पूर्व मिले ताम्रपत्रो को लेकर चर्चाओ के बाजार गर्म है । विगत दिनों मन्दिर समिति द्वारा आयोजित बैठक में   पंचगाई के बुद्धिजीवियो व मन्दिर समिति के सेवानिवृत्त कर्मचारियों के जो जनमत सामने आये है उनके जनमत से मामले ने नया मोड ले लिया है । जनमत के अनुसार स्पष्ट हो गया है कि साजिश के तहत ताम्रपात्रो को मन्दिर में रखा गया है । पुलिस प्रशासन ने मन्दिर समिति की तहरीर पर जांच शुरू कर दी  गयी है ।    
       विदित हो कि भगवान केदारनाथ के शीतकालीन गद्दी स्थल ओंकारेश्वर मन्दिर में एक माह पूर्व उषा अनिरूद्ध विवाह मण्डप सहित विभिन्न स्थानों पर डेढ़ दर्जन से अधिक ताबे की प्लेटे दिवालो व अन्य स्थानों पर मिली थी तथा 31अगस्त की रात्रि को ओंकारेश्वर मन्दिर में लगे सी सी टी वी कैमरे से छेड़छाड़ की गयी थी । मन्दिर सूत्रों की माने तो कुछ लोगों द्वारा मालकोटी के बर्तवाल जाति के लोगों द्वारा मणिगुह के कुवर जाति के लोगों को फोन द्वारा सूचना दी गयी थी कि ओंकारेश्वर मन्दिर में मिले ताम्रपत्रो के अनुसार मन्दिर में तुम्हारा भी हक है । दोनों गाँवों के ग्रामीणों को फोन करने से ही स्पष्ट हो गया था कि भगवान केदारनाथ के शीतकालीन गद्दी ओंकारेश्वर मन्दिर में ताम्र की प्लेटो को साजिश के तहत रखा गया था । विगत दिनों मन्दिर समिति द्वारा पंचगाई के बुद्धिजीवियो व मन्दिर समिति से सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों की बैठक में स्पष्ट हो गया है कि पूर्व में उन स्थानों पर ताबे की प्लेटे साजिश के तहत रखी गई है । बैठक में यह भी स्पष्ट हो गया है कि पूर्व के जो ताम्र पत्र होते थे
उनकी लिखावट को आसानी नहीं पढ़ा जा सकता है जबकि इन प्लेटो पर जो लिखाई है वह हिन्दी में है जिसको हर कोई आसानी से पढ सकता है । बैठक में निकले तथ्यो से स्पष्ट हो गया है कि मन्दिर में अपना आधिपत्य जमाने के लिए मन्दिर में साजिश के तहत ताबे की प्लेटो को रखा गया है तथा अपना पक्ष कमजोर न हो इसके लिए मालकोटी व मणिगुह के लोगों को भी उकसाया जा रहा है । हाँ यदि किसी बाहरी व्यक्ति द्वारा यह साजिस की गयी तो स्थानीय व्यक्ति के मार्ग के बिना बाहर वाला इतनी बड़ी साजिश को अंजाम नहीं दे सकता । वही दूसरी ओर थानाध्यक्ष सुबोध कुमार ममगाई का कहना है कि ओंकारेश्वर मन्दिर में मिली ताबे की प्लेटो की तहरीर मन्दिर समिति द्वारा दी जा चुकी है तथा पुलिस द्वारा जांच की जा रही है ।


.. तो साजिश के तहत रखे थे ओंकारेश्वर मंदिर में ताम्रपत्र : पुलिस ने की जांच तेज .. तो साजिश के तहत रखे थे ओंकारेश्वर मंदिर में ताम्रपत्र : पुलिस ने की जांच तेज Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on October 04, 2019 Rating: 5
Powered by Blogger.