सालभर रैलियां ही निकालते रहेंगे तो आखिर पढ़ाई कब करेंगी ये छात्राएं? छात्राओं ने खुलकर बताई परेशानी।

सालभर रैलियां ही निकालते रहेंगे तो आखिर पढ़ाई कब करेंगी ये छात्राएं? छात्राओं ने खुलकर बताई परेशानी।
-डैस्क केदारखण्ड एक्सप्रेस
रूद्रप्रयाग। रूद्रप्रयाग में सरकारी अभियान छात्रों पर भारी पड़ते नजर आ रहे हैं, आए दिन विभिन्न योजनाओं की जन जागरूकता रैलियों में छात्रों को झोंकना अब छात्रों के लिए परेशान का सबब बन गया है। आलम यह है कि रूद्रप्रयाग बालिका इण्टर काॅलेज में एक माह से पढ़ाई ही नहीं हुई। जबकि अभियान भी धरातल पर फलीभूत होते नहीं दिख रहे हैं। इस वीडियों में छात्रों ने खुलकर अपनी परेशानियां बताई हैं और कहा है कि एक माह से उनकी पढ़ाई नहीं हुई हैं। हर रोज स्वच्छता अभियानों से उनकी पढ़ाई चैपट हो रही है। पहले इस वीडियों को देखिए- 


सुना आपने। एक माह से पढ़ाई नहीं कर पाये हैं ये छात्राएं। पढ़ाई करते भी कहाँ से, रूद्रप्रयाग में जिम्मेदार अधिकारियों ने सरकारी योजनाओं के प्रचार अभियानों का जिम्मा इन छात्रों के कंधों पर जो दे दिया है। अगले माह आर्द्धवाषिक परीक्षाएं सिर पर हैं, कोर्स आधा भी पूरा नहीं हुआ है लेकिन छात्र-छात्रायें एक माह से सड़कों पर तखतियां लेकर नारेबाजी कर रहे हैं, स्वच्छता का पाठ पढ़ा रही है, पर्यावरण का संदेश दे रहे हैं, गंदगी मत फैलाओं स्वच्छता का नारा बुलंद कर रही हैं लेकिन जनता है कि जागरूक नहीं होती। 
अध्यापक कहते हैं वे भी मजबूर हैं ऊपर से अधिकारियों के निर्देश हैं, और अधिकारी कहते हैं शासन से निर्देश है लेकिन बच्चे किसको कहें। आए दिन सरकार की तमाम रैलियां निकालते निकालते जनता तो नहीं जागरूक हो रही लेकिन छात्रों का वर्तमान और भविष्य दोनों जरूर चैपट हो रहे हैं। 
आखिर सरकारी विद्यालयों में शिक्षा का स्तर बढ़ेगा कहाँ से? मास्टरों की ड्यूटियां कभी जनगणना पर तो कभी चुनावों में। और छात्रों को कभी स्वच्छता के अभियानों में तो कभी पर्यावरण दिवसों में रैलियां निकालनी पड़ रही है। अध्यापक सरकारी नौकरी के बोझ तले दबे हैं, लेकिन इन छात्रों ने खुलकर अपना दर्द बयां कर दिया है। अब देखना है जिन रैलियों के जरिए बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं का दम सरकारें भर रही हैं उन बेटियों के दर्द को जिम्मेदार सुन पाते हैं या नही।  

सालभर रैलियां ही निकालते रहेंगे तो आखिर पढ़ाई कब करेंगी ये छात्राएं? छात्राओं ने खुलकर बताई परेशानी। सालभर रैलियां ही निकालते रहेंगे तो आखिर पढ़ाई कब करेंगी ये छात्राएं? छात्राओं ने खुलकर बताई परेशानी। Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on October 01, 2019 Rating: 5
Powered by Blogger.