Breaking News

Sunday, 29 September 2019

नगरपालिका अध्यक्ष बेनाम ने बेच डाली नगरपालिका की भूमि, फर्जीवाड़ा का सनसनीखेज खुलासा..

नगरपालिका अध्यक्ष बेनाम ने बेच डाली  नगरपालिका की भूमि, फर्जीवाड़ा का सनसनीखेज खुलासा..

 -भगवान सिंह /केदारखण्ड एक्सप्रेस 
पौड़ी। वित्तीय अनियमितताओं के अनेक मामलों में पहले से ही फंसे हुये नगर पालिका पौड़ी अध्यक्ष यशपाल “बेनाम” सरकारी जमीन बेचने के एक सनसनीखेज मामले में फँसते हुये नजऱ आ रहे हैं,दरअसल जिला विकास प्राधिकरण में भवन का मानचित्र स्वीकृत कराने हेतु आये एक प्रकरण में भूमि स्वामित्व दस्तावेज में एक ऐसी रजिस्ट्री प्राप्त हुयी,जिसमें नगरपालिका अध्यक्ष “बेनाम”की फ़ोटो विक्रेता के रूप में दिखायी दी ,बेनाम ने इस रजिस्ट्री में भूमि का स्वामी बनकर नगरपालिका परिषद की भूमि वाल्मिकी बस्ती क्षेत्र में मुरारी नाम के एक व्यक्ति को बेच डाली है,जबकि क़ानूनी रूप से नगरपालिका परिषद सरकारी भूमि की सिर्फ़ प्रबन्धक होती है स्वामी नहीं! ऐसे में नगरपालिका अध्यक्ष “बेनाम” ने कैसे स्वयं को भूमि का स्वामी दिखाकर जमीन बेच डाली ये गम्भीर मामला है?मामले की गंभीरता को देखते हुए अपर जिलाधिकारी पौड़ी शिवकुमार बरनवाल ने अधिशाषी अधिकारी नगरपालिका परिषद पौड़ी को नोटिस जारी कर इस प्रकरण की जांच शुरू करवा दी है
नगर पालिका की जमीन का फर्जी तरीके से बेचे जाने का स्टाॅप पेपर
प्रारम्भिक जांच में ऐसी और भी रजिस्ट्री होने के होने के मामले प्रकाश में आये हैं,करोड़ों रुपए की वित्तीय अनियमितताओं के पहले से चल रहे अन्य मामलों में भी शासन ने “बेनाम” को प्रथम दृष्टया दोषी मानते हुए कारण बताओ नोटिस जारी कर 15 दिनों में जवाब देने का आदेश दिया है,उधर नगरपालिका की संपत्ति पर अवैध कब्जे को बोर्ड प्रस्ताव द्वारा मंजूरी देकर वैध बनाने के मामले में भी शासन स्तर पर इस प्रस्ताव को निरस्त कियेे जाने की कार्यवाही चल रही है और अब जब जिला विकास प्राधिकरण के संज्ञान में “बेनाम” द्वारा नगरपालिका की भूमि को बेचने के कई अन्य मामले भी संज्ञान में आ गये हैं,तो इनकी जाँच के बाद”बेनाम” द्वारा अवैध तरीके से नगरपालिका परिषद की कई और भूमि और परिसंपत्तियों को बेचकर करोड़ों का घालमेल करने के कई और खुलाशे होने अभी बाक़ी हैं! जिससे एक बार फिर “बेनाम” की मुश्किलें बढ़ना तय है।   
Adbox