ओबीसी तो पलायन कर गये अब कहा से बनेगा प्रधान! यहाँ कोई बुला-बुलाकर भी नहीं आ रहे चुनाव लडने

ओबीसी तो पलायन कर गये अब कहा से बनेगा प्रधान! यहाँ कोई बुला-बुलाकर भी नहीं आ रहे चुनाव लडने 

-नीरज कण्डारी/केदारखण्ड एक्सप्रेस 
पोखरी। चमोली जनपद के विकासखंड पोखरी के कई गाँवों में प्रधान के लिए प्रत्याशी नहीं मिल पा रहे हैं स्थिति यह है कि आज नामांकन का आखिरी दिन था लेकिन प्रत्याशी न होने से कई गॉवों में नामांकन नहीं हुए हैं। विकासखण्ड पोखरी के भदूणा गांव में इस बार ओबीसी के लिए आरक्षित है लेकिन गाँव के मात्र तीन ओबीसी परिवारों ने वर्षों पहले गाँव से पलायन कर दिया था, वर्तमान में एक भी व्यक्ति प्रत्याशी के रूप में सामने नहीं आया। भदूणा के पूर्व प्रधान राकेश सिंह नेगी ने बताया कि ओबीसी परिवारों से सम्पर्क किया गया, लेकिन बुला बुलाकर भी वे घर आने और चुनाव लडने को तैयार नहीं है। दरअसल भदूणा गांव आज भी बुनियादी सुविधाओं के लिए जूझ रहा है। 12वीं सदी के इस दौर में ग्रामीणों को आज भी 3 किमी पैदल दूरी तय करनी पडती है। इस कारण गांव से करीब 10 परिवारों ने पलायन कर दिया है, वर्तमान में 60 परिवारों के 177 वोटर गांव में मौजूद हैं लेकिन क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों की उदासीनता का आलम यह है कि इस वर्ष जुलाई माह में यहां बादल फटा जिस कारण यहां के पैदल सम्पर्क मार्ग, पेयजल लाइन आदि क्षतिग्रस्त हो गई थी जो अब तक बहाल नहीं हो पाई हैं। 
इससे पहले हमने आपको खन्नी गांव की खबर को दिखाया था जहां की स्थिति भी कमोबेश ऐसी थी।
ओबीसी तो पलायन कर गये अब कहा से बनेगा प्रधान! यहाँ कोई बुला-बुलाकर भी नहीं आ रहे चुनाव लडने ओबीसी तो पलायन कर गये अब कहा से बनेगा प्रधान! यहाँ कोई बुला-बुलाकर भी नहीं आ रहे चुनाव लडने Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on September 24, 2019 Rating: 5
Powered by Blogger.