Breaking News

Monday, 16 September 2019

तीन माह से सड़क का 20 मीटर हिस्सा गायब, पर पीएमजीएसवाई के ऑखों पर गाँधारी की बंधी है पट्टी, हापला घाटी की लाइफलाइन बंद


तीन माह से सड़क का 20 मीटर हिस्सा गायब, पर पीएमजीएसवाई के ऑखों पर गाँधारी की बंधी है पट्टी, हापला घाटी की लाइफलाइन बंद

नीरज कण्डारी/केदारखण्ड एक्सप्रेस
पोखरी : पोखरी-हापला-गोपेश्वर मोटर मार्ग पर रेंस के पास भूस्खलन के चलते तीन माह पूर्व सड़क का बीस मीटर हिस्सा पूरी तरह मिट गया था जिससे हापला घाटी का सम्पर्क देश दुनियां से क हुआ है, लेकिन जिम्मेदार विभाग पीएमजीएसवाई के ऑखों पर मानों गांधारी की तरह पट्टी बंधी हो, कोई भी कार्यवाही करने को तैयार नहीं है। ऐसे में क्षेत्र की जनता को भारी परेशानियों का सामना करना पड रहा है। लोग रोजमर्रा की आवश्यक सामग्री लाने-ले जाने तथा कामकाजी लोगों को भी अपने गंतव्य तक पहुंचने में दिक्कतों का सामना करना पड रहा है। क्षेत्रीय लोगों द्वारा लगातार इस संबंध में शिकायत की जा रही है लेकिन मजाल क्या कि कोई सुनने को तैयार हो।
पोखरी के सामाजिक कार्यकर्ता वीरेन्द्र पाल, एवीवीपी के संदीप बर्त्वाल सहित कई लोगों ने उपजिलाधिकारी को ज्ञापन भेजकर तत्काल मार्ग खोलने की मांग की है। उधर पीएमजीएसवाई के अधिशासी अभियंता राजकुमार का कहना है कि विभाग के पास बजट न होने के कारण मार्ग खोलने में दिक्कत आ रही है, उन्होंने कहा का कि साढे 16 लाख का प्रस्ताव बनाकर जिलाधिकारी को भेजा गया है लेकिन अब तक कोई जवाब नहीं आया।
लेकिन सवाल यह है कि अगर बजट एक साल बाद आता है तो क्या तब तक लोगों को ऐसी परेशानी झेलनी पडेगी? जिलाधिकारी चमोली को शीघ्र जनहित को देखते हुए मार्ग खोल देना चाहिए।