Breaking News


 

Saturday, 27 July 2019

कोर्ट पहुंचा अवैध डम्पिंग जोन का मामला, जिला प्रशासन, नगरपालिका समेत राष्ट्रीय राजमार्ग खण्ड और आरसीसी कम्पनी पर मुकदमा दर्ज


कोर्ट पहुंचा अवैध डम्पिंग जोन का मामला, जिला प्रशासन, नगरपालिका समेत राष्ट्रीय राजमार्ग खण्ड और आरसीसी कम्पनी पर मुकदमा दर्ज

रूद्रप्रयाग। रूद्रप्रयाग नगर स्थित गुलाबराय मैदान के विस्तारीकरण के नाम पर बरसाती गदरे में मानकों को ताक पर रखकर मलबा डंप करने का मामला  अब कोर्ट पहुच गया है। सिविल जज (सीडी) रूद्रप्रयाग के न्यायालय में डम्पिग जोन के निकट रहने वाले दिगम्बर सिंह ने जिला प्रशासन, नगरपालिका, एनएच व आरसीसी कम्पनी पर वाद दायर किया है।

दरअसल पिछले साल बरसात में गुलाबराय मैदान की एक हिस्सा (श्रीनगर की ओर) बह गया था, स्थानीय लोगों की मांग पर मैदान के क्षतिग्रस्त हिस्से के भराव के लिए जिलाधिकारी द्वारा ऑलवेदर का मलबा डलवाया गया, बाद में इसे समतल भी किया गया।
इस वर्ष फरवरी में इस मैदान के दूसरी छोर (रूद्रप्रयाग की ओर) को और अधिक चौड़ा बनाने लिए इसके निकट बहने वाले बरसाती गदरे में जिला प्रशासन और नगर पालिका द्वारा ऑलवेदर का मलबा डंप किया जाने लगा, भारी मात्रा में मलबा डालने जहां धूल के गुब्बारों से स्थानीय लोगों के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड रहा था वहीं बरसाती गदरे में मलबा डम्प होने करीब दस से अधिक परिवारों को खतरा भी पैदा हो रहा था और हुआ भी वही मानसून की पहली ही बारिश में नगर पालिका द्वारा डंप किया हुआ मलबे ढेर में जबरदस्त भूस्खलन हो गया जिस कारण स्थानीय लोगों की मकाने खतरे की जद में आ गई।

स्थानीय निवासी दिगम्बर रमल्वाण द्वारा लगातार मलबा डालने का विरोध किया जा रहा था लेकिन उनकी सुनवाई कही भी नहीं हो रही थी। आखिर होती भी कैसे जिले के जिम्मेदार अधिकारी ही इस कार्य को करवा रहे थे।

ऐसे में अब राष्ट्रीय राजमार्ग का मलवा डम्प करने को लेकर सिविल जज (सीडी) के न्यायालय में जिला प्रशासन, नगर पालिका, राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिसाशी अभियन्ता रूद्रप्रयाग व आर0सी0सी कम्पनी पर वाद दायर हो गया है कोर्ट में वाद दर्ज करने वाले 3 वादी दिगम्बर सिंह, चन्दन सिंह और अरविन्द सिंह के इस केश की पैरवी  अधिवक्ता अरूण वाजपेई करेंगे
रूद्रप्रयाग। रूद्रप्रयाग नगर स्थित गुलाबराय मैदान के विस्तारीकरण के नाम पर बरसाती गदरे में मानकों को ताक पर रखकर मलबा डंप करने का मामला  अब कोर्ट पहुच गया है। सिविल जज (सीडी) रूद्रप्रयाग के न्यायालय में डम्पिग जोन के निकट रहने वाले दिगम्बर सिंह ने जिला प्रशासन, नगरपालिका, एनएच व आरसीसी कम्पनी पर वाद दायर किया है।

दरअसल पिछले साल बरसात में गुलाबराय मैदान की एक हिस्सा (श्रीनगर की ओर) बह गया था, स्थानीय लोगों की मांग पर मैदान के क्षतिग्रस्त हिस्से के भराव के लिए जिलाधिकारी द्वारा ऑलवेदर का मलबा डलवाया गया, बाद में इसे समतल भी किया गया।
इस वर्ष फरवरी में इस मैदान के दूसरी छोर (रूद्रप्रयाग की ओर) को और अधिक चौड़ा बनाने लिए इसके निकट बहने वाले बरसाती गदरे में जिला प्रशासन और नगर पालिका द्वारा ऑलवेदर का मलबा डंप किया जाने लगा, भारी मात्रा में मलबा डालने जहां धूल के गुब्बारों से स्थानीय लोगों के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड रहा था वहीं बरसाती गदरे में मलबा डम्प होने करीब दस से अधिक परिवारों को खतरा भी पैदा हो रहा था और हुआ भी वही मानसून की पहली ही बारिश में नगर पालिका द्वारा डंप किया हुआ मलबे ढेर में जबरदस्त भूस्खलन हो गया जिस कारण स्थानीय लोगों की मकाने खतरे की जद में आ गई।

स्थानीय निवासी दिगम्बर रमल्वाण द्वारा लगातार मलबा डालने का विरोध किया जा रहा था लेकिन उनकी सुनवाई कही भी नहीं हो रही थी। आखिर होती भी कैसे जिले के जिम्मेदार अधिकारी ही इस कार्य को करवा रहे थे।

ऐसे में अब राष्ट्रीय राजमार्ग का मलवा डम्प करने को लेकर सिविल जज (सीडी) के न्यायालय में जिला प्रशासन, नगर पालिका, राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिसाशी अभियन्ता रूद्रप्रयाग व आर0सी0सी कम्पनी पर वाद दायर हो गया है कोर्ट में वाद दर्ज करने वाले 3 वादी दिगम्बर सिंह, चन्दन सिंह और अरविन्द सिंह के इस केश की पैरवी  अधिवक्ता अरूण वाजपेई करेंगे

No comments: