रूद्रप्रयाग में भाजपा ने धूम धाम से मनाई पण्डित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती



रूद्रप्रयाग में भाजपा ने धूम धाम से मनाई पण्डित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती

रुद्रप्रयाग। भाजपा पदाधिकारियो एवं कार्यकर्ताओ द्वारा आज पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर सभी मंडलो में विचार  गोष्ठी कार्यक्रम के साथ-साथ  प्रत्येक बूथ  पर पंडित दीन दयाल उपाध्याय  के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर माल्यार्पण करते हुए श्रद्धा सुमन पुष्प अर्पित किया। पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर देश के प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी द्वारा  प्रसारण से संबोधित किया गया जिसे  सभी कार्यकर्ताओं द्वारा सुना गया।


जिला अध्यक्ष दिनेश उनियाल  ने  रुद्रप्रयाग नगर मंडल के रुद्रप्रयाग मुख्यालय में पूर्व जिलाध्यक्ष विजय कपरवान, मुख्य वक्ता जिला मंत्री घनश्याम पुरोहित, नगर मंडल अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह रावत, जिला सह मीडिया प्रभारी बुद्धि बल्लभ थपलियाल, पूर्व  जिला महामंत्री अजय सेमवाल , जिला मंत्री सुनिल नोटियाल आदि पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं के साथ पंडित दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर  माल्यार्पण करते  हुए श्रद्धा सुमन पुष्प अर्पित किए गए। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष दिनेश उनियाल ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष रहे।उन्होंने जीवन पर्यंत राष्ट्रीय विचारों को महत्व दिया और हमेशा सशक्त भारत के पक्षधर रहे । अंत्योदय का सिद्धांत पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की ही देन है । उनके विचारों से सभी को प्रेरणा लेनी चाहिए । मुख्य वक्ता घनश्याम पुरोहित ने  उन के जीवन पर प्रकाश डाला । 


रुद्रप्रयाग विधायक भरत सिंह चौधरी  ,अध्यक्ष जिला पंचायत रुद्रप्रयाग अमरदेई शाह ,  कार्यक्रम के जिला संयोजक एवं मुख्य वक्ता अध्यक्ष नगर  पंचायत केदारनाथ देव् प्रकाश सेमवाल ने मंडल अध्यक्ष मेहरबान सिंह रावत , चिरंजीव प्रसाद सेमवाल  आदि कार्यकर्ता  के साथ जखोली मंडल के सरस्वती शिशु मंदिर मयाली में पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर माल्यार्पण करते हुए पुष्प अर्पित किये , एवं मुख्य वक्ताओं द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के जीवन पर प्रकाश डाला गया । सभी मंडलो में मंडल अध्यक्षो , मंडल में कार्यक्रम प्रभारियों ,मुख्य वक्ताओं द्वारा  कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया ,एवं सभी मंडलो के प्रत्येक बूथ पर कार्यकर्ता द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के चित्र पर माल्यार्पण करते हुए पुष्प अर्पित किए गए एवं प्रसारण द्वारा माननीय प्रधानमंत्री जी के उद्धोधन को सुना गया  । कार्यक्रम मैं अपने-अपने मंडलों मे जिला महामंत्री विक्रम कंडारी , अनूप सेमवाल , पूर्व विधायक  केदारनाथ आशा नोटियाल, वरिष्ठ पदाधिकारी  वाचस्पति  सेमवाल , दरम्यान जख्वाल , शकुंतला जगवाण, भगत सिंह कोटवाल , डॉ  आशुतोष किमोठी , अशोक खत्री  ,चंडी प्रसाद भट्ट ,विक्रम पटवाल , बीना बिष्ट , ममता नोटियाल ,कुलवीर सिंह रावत ,भगत सिंह कोटवाल ,जयंती प्रसाद कुर्मांचलि , सुन्दर  सिंह रावत , गंभीर बिष्ट ,प्रहलाद गुसाई , रीना अग्रवाल , सुमन जमलोकी ,विजय लक्ष्मी पंवार ,जिला मीडिया प्रभारी सतेन्द्र बर्त्वाल , पंकज कपरवान ,दीपक सिलूड़ी आदि सभी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने  प्रतिभाग किया ।

रूद्रप्रयाग में भाजपा ने धूम धाम से मनाई पण्डित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती रूद्रप्रयाग में भाजपा ने धूम धाम से मनाई पण्डित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on September 25, 2020 Rating: 5

पोखरी : अपात्र व्यक्तियों को मिल रहे प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ, क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने लगया भ्रष्टाचार का आरोप



पोखरी : अपात्र व्यक्तियों को मिल रहे प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ,  क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने लगया भ्रष्टाचार का आरोप

-संदीप बर्त्वाल/ केदारखण्ड एक्सप्रेस 


Pokhari/chamoli. गरीब और निर्धन परिवारों के लिये सर छुपाने के लिये "प्रधानमंत्री आवास योजना" के तहत छत  मुहैया की जा रही है लेकिन इस योजना पर भी अमीरों की नजर पड़ गई है, लिहाजा गरीबों का हक मरने की पूरी कार्य योजना तैयार है। चमोली जिले के विकासखण्ड  पोखरी में भी कुछ एसा ही चल रहा है। क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने विकास खण्ड कार्यालय मे प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत अपात्र व्यक्तियों को आवासों का आंवटन किये जाने का आरोप लगाया है।  


उपजिलाधिकारी पोखरी को ज्ञापन सौंपते हुये पोखरी ब्लाॅक के क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने "प्रधानमंत्री आवास योजना" की जाँच की मांग की है, उन्होनें कहा कि  योजना में बड़ी धांन्धली की जा रही है, जो इस योजना के लिये पात्र हैं उनकी बजाय योजना का लाभ संपन लोगों को दिया जा रहा है। ओर यह सब कुछ विभागीय अधिकारी कर्मचारियों के संरक्षण में हो रहा है। एसे में गरीब, असहाय योजना से वंचित रह जा रहे हैं। 


क्षेत्र पंचायत सदस्य सुभाष सिंह, ममता भट्ट, राधारानी रावत, धीरेन्द्र राणा राखी देवी, सन्तोष नेगी,  किरन देवी ने कहा  कि विकास खण्ड कार्यालय  में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत  आंवटित हो रहे आवासों में भारी गड़बड़झाला है, जिसकी तत्काल ओर गम्भीरता से जाँच की जानी चाहिये।


उधर पूरे मामले में  वीडीओ  महेश प्रसाद वशिष्ठ ने कहा कि अभी तक जो सर्वे हुआ है ओर जो लिस्ट बनी उसमे छटनी होनी है, जो योजना के अन्तर्गत पात्र होगा उसी को लाभ दिया जाएगा, योजना में किसी भी तरह की गड़बड़ी नही है।


बहरहाल पहले भी प्रधानमंत्री आवास योजना में इसी तरह के भ्रष्टाचार की शिकायतें आती रह्ती हैं, अलबता पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की जानी जरुरी है ओर योजना का लाभ पात्र व्यक्तियों को ही मिलना चाहिये।

पोखरी : अपात्र व्यक्तियों को मिल रहे प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ, क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने लगया भ्रष्टाचार का आरोप पोखरी : अपात्र व्यक्तियों को मिल रहे प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ,  क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने लगया भ्रष्टाचार का आरोप Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on September 24, 2020 Rating: 5

क्या थराली नगर पंचायत बन गया है भ्रष्टाचार का अड्डा? नगर पंचायत में वित्तीय अनियमितताओं को लेकर सभासदों के गंभीर आरोप



क्या थराली नगर पंचायत बन गया है भ्रष्टाचार का अड्डा? नगर पंचायत में वित्तीय अनियमितताओं को लेकर सभासदों के गंभीर आरोप


-नवीन चंदोला/केदारखण्ड एक्सप्रेस 

थराली।  नगर पंचायत थराली में बीते कुछ हफ़्तों से चल रहा बवाल अब भी जारी है। बीते हफ्ते नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी बीना नेगी को हटाए जाने के बाद नगर पंचायत थराली का अधिशासी अधिकारी का प्रभार उपजिलाधिकारी थराली किशन सिंह नेगी को दिया गया है। जिसके बाद आज लंबे समय बाद नगर पंचायत की बोर्ड बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में चारों सभासद और नगर पंचायत अध्यक्ष ने प्रभारी अधिशासी अधिकारी की उपस्थिति में कई प्रस्तावों पर चर्चा कर उनकी कार्ययोजना  तैयार की ही गई, लेकिन आपसी विवाद भी  जारी रहा। भेंटा वार्ड की सभासद बसंती देवी और अपर बाजार थराली के सभासद हरीश पंत ने नगर पंचायत में वित्तीय अनियमितता और सरकारी धन के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए अधिशासी अधिकारी और उपजिलाधिकारी थराली को ज्ञापन सौंपते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की है। तो क्या थराली नगर पंचायत भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया है? यह सवाल हम इसलिए उठा रहे हैं क्योंकि नगर पंचायत सिस्टम के भीतर सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है और इस बात को सभासदों ने प्रमुखता से उठाया है।


आखिर  सभासदों ने  क्या आरोप लगाये 

सभासदों ने नगर पंचायत के सरकारी वाहन को 2600 किलोमीटर अनियमित तरीके से चलाए जाने,रजिस्ट्रेशन में विलंब होने के कारण एक लाख पच्चीस हजार रुपये विलंब शुल्क देकर सरकारी धन का दुरुपयोग करने,मोबाइल बायो टॉयलेट की खरीद बाजार मूल्य से अधिक दामो पर खरीदने में हुई वित्तीय अनियमितता, निर्माण कार्यो में वित्तीय अनियमितता का आरोप लगाते हुए पूर्व में थराली नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी विनोद कुमार श्रेय के कार्यकाल की भी जांच की मांग की है। दोनों पार्षदों ने अधिशासी अधिकारी विनोद कुमार श्रेय के अधिकाधिक गायब रहने के बावजूद वेतन आहरण पर सवाल तो उठाया ही साथ ही पूर्व अधिशासी अधिकारी विनोद कुमार श्रेय द्वारा अपने पुत्र अपने भाई समेत 4 अन्य व्यक्तियों के संविदा पर नगर पंचायत थराली में नियुक्त किये जाने और उनका वेतन नगर पंचायत थराली से निर्गत किये जाने का मामला उठाते हुए जांच की मांग की है। 


सभासदों द्वारा उपजिलाधिकारी थराली को सौंपे गए ज्ञापन पर उपजिलाधिकारी  किशन सिंह नेगी ने जवाब देते हुए कहा कि नगर पंचायत के कुछ सभासदों द्वारा वित्तीय अनियमितता सम्बन्धी जांच की मांग की है इस मामले की जांच वे स्वयं करेंगे और इस मामले में जांच के बाद ही दोषी पाए जाने पर कार्यवाही की जाएगी।

वहीं थराली  नगर पंचायत की अध्यक्षा दीपा भारती ने सभासदों द्वारा लगाए गए आरोपों को निराधार बताते हुए कहा कि नगर पंचायत थराली में किसी भी तरह की कोई वित्तीय गड़बड़ी नही हुई है और न ही नगर पंचायत में बोर्ड मेम्बरों में किसी तरह का कोई विवाद चल रहा है। उन्होंने कहा कि नगर पंचायत में सब ठीक चल रहा है और सभी थराली के विकास के लिए मिलकर कार्य कर रहे हैं। 

बहरहाल सभासदों ने नगर पंचायत में वित्तीय अनियमितता संबंधी जांच की मांग तो कर दी है। अब देखना ये होगा कि वार्ड सभासदों के द्वारा लगाए गए इन आरोपों में कितना दम है क्योंकि मामले में उपजिलाधिकारी थराली भी स्पष्ट कर चुके हैं कि वे स्वयं इस मामले की जांच करेंगे और तभी आगे  कुछ कह पाएंगे।

क्या थराली नगर पंचायत बन गया है भ्रष्टाचार का अड्डा? नगर पंचायत में वित्तीय अनियमितताओं को लेकर सभासदों के गंभीर आरोप क्या थराली नगर पंचायत बन गया है भ्रष्टाचार का अड्डा? नगर पंचायत में वित्तीय अनियमितताओं को लेकर सभासदों के गंभीर आरोप Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on September 23, 2020 Rating: 5

कोविड ऑनलाक-4 : बिना कोरोना जांच करवाये अब कोई भी आ सकेगा उत्तराखंड घुमंने, केवल "सिटी देहरादून वेबसाइट पर पंजीकरण करना होगा अनिवार्य






कोविड ऑनलाक-4 : बिना कोरोना जांच करवाये अब कोई भी आ सकेगा उत्तराखंड घुमंने, केवल "सिटी देहरादून वेबसाइट पर पंजीकरण करना होगा अनिवार्य 

प्रिन्सा बर्त्वाल/केदारखण्ड एक्सप्रेस 

देहरादून। कोरोना वायरस के चलते उत्तराखंड में पर्यटकों की आवाजाही पर लगी पाबंदियां अब समाप्त कर दी गई। अब बिना कोविड जांच करवाये कोई भी पर्यटक उत्तराखंड घुमने आ सकता है। 

सरकार ने बाहरी राज्यों से उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों के लिए कोविड जांच की निगेटिव रिपोर्ट और दो दिन होटल व होम स्टे में ठहरने का प्रतिबंध हटा दिया है। अब कोई भी पर्यटक बिना कोविड जांच रिपोर्ट के उत्तराखंड घूमने आ सकता है, लेकिन उसे स्मार्ट सिटी देहरादून वेबसाइट पर पंजीकरण करना अनिवार्य होगा।

एक तरफ जहा सरकार के इस फैसले से उत्तराखंड के तमाम धार्मिक स्थानों, पर्यटक स्थलों पर दर्शन एवं सैर सपाटा करने वालों के लिये यह खुशखबरी तो वही कोविड के कारण बन्द पड़े व्यवसायों की भी उम्मीदें बढी हैं। हाँ सरकार के इस फैसले से अब अधिक सावधान, सतर्क रहने की भी आवश्यकता है ताकी कोरोना संक्रमण ना फैले।

कोविड ऑनलाक-4 : बिना कोरोना जांच करवाये अब कोई भी आ सकेगा उत्तराखंड घुमंने, केवल "सिटी देहरादून वेबसाइट पर पंजीकरण करना होगा अनिवार्य कोविड ऑनलाक-4 : बिना कोरोना जांच करवाये अब कोई भी आ सकेगा उत्तराखंड घुमंने, केवल "सिटी देहरादून वेबसाइट पर पंजीकरण करना होगा अनिवार्य Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on September 22, 2020 Rating: 5

मन्त्री धन सिंह कोरोना पॉजिटिव, केदारनाथ में हडकंप

 


मन्त्री धन सिंह कोरोना पॉजिटिव, केदारनाथ में हडकंप 

डेस्क -केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़ 

रूद्रप्रयाग : राज्यमंत्री धन सिंह रावत के केदारनाथ धाम दौरे के बाद कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने से रुद्रप्रयाग जिले में हड़कंप मच गया है खासतौर पर केदारनाथ धाम में लोग परेशान हैं। गौरतलब है कि आज मंत्री धनसिंह रावत केदारनाथ धाम पहुंचे थे जहां उन्होंने केदारनाथ के दर्शन करने के साथ-साथ पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा भी लिया, साथ ही तीर्थ पुरोहितों की विभिन्न समस्याओं पर उनसे भी बातचीत की। ऐसे में वह लगभग केदारनाथ में दर्जनों लोगों के संपर्क में आए।  जबकि विधानसभा सत्र को लेकर कल उन्होंने कोरोना टेस्ट करवाया था जिसकी रिपोर्ट आज पॉजिटिव आई है। इस बात की जानकारी जैसे ही सार्वजनिक हुई तो केदारनाथ धाम में हड़कंप मच गया जो लोग मंत्री  के संपर्क में आए थे उन लोगों में अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया।

हालांकि रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी वंदना सिंह ने सभी लोगों को संयम बरतते हुए अपील की है कि जो लोग मंत्री के संपर्क में आए हैं वह खुद ही खुद को आइसोलेट कर दें उन्होंने कहा कि कल रुद्रप्रयाग से एक मेडिकल टीम केदारनाथ धाम के लिए रवाना की जाएगी जो मंत्री के संपर्क में आए लोगों का जिगनी करण कर उन्हें क्वॉरेंटाइन करेगा।


इस लापरवाही का जिम्मेदार कौन?


मंत्री धन सिंह रावत ने जब 1 दिन पूर्व कोरोना टेस्ट करवाया था तो वह रिपोर्ट आने से पहले क्यों सार्वजनिक स्थानों पर गए और केदारनाथ धाम जैसे धार्मिक स्थान पर जाकर वहां पुजारी, तीर्थ पुरोहितों, श्रमिकों के साथ मिलना और उसके बाद उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आना एक बड़ी लापरवाही है। क्योंकि सरकार ने खुद ही इस नियम को लागू किया था कि जिस किसी भी अधिकारी कर्मचारी या अन्य लोगों की कोरोना टेस्ट हो और रिपोर्ट नहीं आई हो तो तब तक वह सार्वजनिक स्थानों पर नहीं जा सकते हैं लेकिन यहां सरकार का एक मंत्री खुलेआम कोरोना का संक्रमण फैलाने में लगा हुआ है। ऐसे में मंत्री जी की इस लापरवाही पर आखिर क्या कार्यवाही होती है यह देखना होगा।

मन्त्री धन सिंह कोरोना पॉजिटिव, केदारनाथ में हडकंप  मन्त्री धन सिंह कोरोना पॉजिटिव, केदारनाथ में हडकंप Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on September 22, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.